किसान तंगहाल

किसानों की आमदनी दो गुनी, पूर्ण कर्जा माफ़ी और गन्ना किसानों को 14 दिन में पूर्ण भुगतान जैसे लोक लुभावने वादे के साथ भाजपा की सरकार योगी के नेतृत्व में बनी थी। आज योगी सरकार के तीन साल बीत जाने पर प्रदेश के अन्नदाता बद से और बदहाली की तरफ धकेले जा चुके हैं। ऋण माफ़ी के नाम पर 5 से 7 रूपये के चेक बाँट कर उनकी गरीबी का सरेआम मजाक उड़ाया गया है। बीते दिनों हुयी बेमौसम बरसात और ओलावृष्टि ने उनकी कमर तोड़ दी है। प्राकृतिक मार से किसान कराह उठा है। किसानों की 50% से अधिक फसलों को नुकसान हुआ है। सरकार की तरफ से हमेशा की तरह कागज़ी और कोरे आश्वासन ही दिए जा रहें हैं। अन्नदाता हताश और निराश हो चुका है। आईये जाने प्रदेश के किसानों की दुर्दशा का हाल…

Ghatna 9